इंसान की सोच क्या कहती है ? insaan ki soch kya kahti hai - Quality management and cute images meaning in Hindi

5/27/2020

इंसान की सोच क्या कहती है ? insaan ki soch kya kahti hai

इंसान की सोच क्या कहती है ? insaan ki soch kya kahti hai

insaan ki soch kya kahti hai

''मनुष्य की सोच क्या है''
[1]
प्रेम करते समय समझता है कि 
सारी दुनियां भगवान् ने बनाई है। 
मनुष्य की सोच क्या है

[2]
पुण्य करते समय समझता है की भगवान् देख रहा !

[3]
पाप करते समय भूल जाता है की भगवान् नहीं देख रहा है !

[4]
प्रार्थना करते समय समझता है 
की भगवान् सुन रहा है। 
मनुष्य की सोच क्या है

[5]
निंदा करते समय ये भूल जाता है 
की भगवान् नहीं सुनेगा !
insaan ki soch kya kahti hai
'इंसान की सोच'

[6]
दान करते समय समझता है की
 भगवान् सभी में बसते है !

[7]
चोरी करते समय भूल जाता है
की भगवान् नहीं देखेंगे !

[8]
ईर्ष्या करते समय भूल जाता है की
भगवान् नहीं देखेगा 

'और फिर भी इन सब के बाद भी इंसान खुद को अकलमन्द समझता है

मनुष्य की सोच क्या है, सकारात्मक सोच की शक्ति, सकारात्मक सोच के लाभ, सकारात्मक का अर्थ क्या है,व्यक्ति की सोच, इंसान की अच्छी सोच, मनुष्य की सोच कैसी होनी चाहिए, इंसान की पहचान, अच्छे इंसान की पहचान!

No comments:

Post a Comment