What is 5s? 5s kya hota hai

what is 5s? 5s kya hota hai 5s in hindi 5 एस क्या है ppt and pdf and training 5s,counting, fullform posters free download,क्या हिन्दी में 5 एस है 
5s का अर्थ क्या है ?
5s एक जापानी विचारधारा (technic) है - जिसके अंतर्गत Management तथा Employee के सहयोग द्वारा अपने कार्यस्थल,मशीन,उपकरण आदि के अच्छे रख-रखाव एवं सुरक्षित रहकर कार्य करना 5s कहलाता है। मुख्यतः  5s  workstation  में व्यवस्था  स्थापित करने तथा व्यवस्थित रख रखाव के लिए एक विचारशील मार्ग स्थापित करना है।  इसे क्रमशः 5 चरणों में प्राप्त किया जा सकता है।  counting in hindi 

what is 5s, 5s kya hota hai,5s in hindi,5s posters,dearhindi.com

5s के 5 steps इस प्रकार है।   counting in hindi 


japani language में - seire,  seiton,  seiso,  seikets,  shitsuke
English language में - 
1s - sort in hindi posters and training pdf and ppt.
2s - set in order 
3s - shine  housekeeping ppt in hindi formate.
4s - standardize meening and posters free download full form
5s - sustain
    हिंदी language में -
    1s- छंटाई 
    2s- यथास्थान (व्यवस्थित रख रखाव ) 
    3s- सफाई 
    4s- सही मानकीकरण  
    5s- स्व-अनुशासन 

    • 1s- SHORT छंटाई -

    जितना use में उपयोगी हो उतनी ही वस्तु अपने पास रखे जो use की नहीं है उसे अलग करके रखे। जितना जरुरी हो उतना ही सामान मगवाये।अपने आस पास नजर डाले और तय करे की कौन  सा सामान आपके लिये उपयोगी है और कौन  सा आपके काम का नहीं है। अनावश्यक वस्तुओ से ना ही सिर्फ Work workstation गन्दा  होता है बल्कि जरुरी वस्तुओ का समय पर मिल पाना उनकी संख्या का अनुमान लगाना काफी मुश्किल हो जाता है।क्या आपको अपने कार्य स्थल के बारे में अभिमान है। हमारे अन्दर चीजो को जमा करने व  रखने की आदत होती है। कुछ ऐसी चीजे हमारे पास होती है जिसकी जरुरत हमें उस समय नहीं होती है जिससे सही से काम करने में problems होती है। इन वस्तुओ को छटाई  करने के लिये पहले उन वस्तुओ को पहचानना और उनकी सूचि बनाना पड़ेगा क्या आपको इन वस्तुओ की आवस्यकता है यदि किसी को भी इन वस्तुओ की आवस्यकता नहीं है तो वास्तव ने वे अनावश्यक है।  हमें ये पता लगाना है की हमें किसकी जरुरत है और किसकी जरुरत नहीं है। 

    1. उपलब्ध स्थान का प्रभावित उपयोग करे। 
    2. उन्ही वस्तुओ को इकठ्ठा करे जिनकी आवश्यकता हो। 
    3. अवांछित वस्तुओ को हटा दे। 
    4. लाल tag प्रणाली का उपयोग करे। 

    -What is Quality and Quality policy in hindi
    1. 2s- SET IN ORDER यथास्थान (व्यवस्थित रख रखाव )-
    सभी वस्तुओं के लिए जगह होनी चाहिए और सभी वस्तुए अपनी अपनी जगह पर होना चाहिए। सभी वस्तुओ के लिये स्थान निर्धारित करे तथा सभी वस्तुओ को  निर्धारित जगह पर रखे  वस्तुए निर्धारित जगह पर होने से उन्हें उपयोग में लाने के लिये कम समय लगता है। हर चीज के लिए अपनी एक जगह होनी चाहिए और हर चीज उपयोग करने के बाद अपनी उसी जगह पर होनी चाहिए। चीजो को व्यवस्थित रूप से सही जगह पर रखने से आपका काम आसान होगा बल्कि आपका Area  भी साफ़ सुथरा दिखाई देगा। जैसे बड़ी चीजो के लिए अलग जगह छोटी चीजो के लिए अलग जगह। चीजो को ऐसे रखे जिसे उपयोग करने में आसानी हो।

    1. सभी वस्तुए आसानी से मिल सके। ppt and pdf
    2. साइनबोर्ड का  उपयोग करे।
    3. सभी चीजों के लिए जगह और सभी चीज अपनी जगह पर रखे।


    • 3s- SHINE सफाई -

    अपने कार्य स्थल, मशीनो  तथा उपकरणों को बिलकुल साफ़ रखना चाहिए। मशीनों तथा floor की साफ़ सफाई में अगर कोई भी दरार या leakage दिखाई दे तो उस पर तुरंत Action लेना चाहिए ऐसी problems को बिल्कुल भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। मशीन और उपयोग में आने वाले उपकरण व अपना Area समय समय पर साफ़ करना चाहिए। सफाई महत्वपूर्ण है लेकिन उस समय नहीं जब मशीन चल रही हो। क्या आप मशीन को उसी समय check व साफ़ करते है जब वह काम करना बंद कर देती है। मशीनों की सफाई व जांच के लिए एक नियमित समय रखना चाहिए।

    1. हर व्यक्ति को अपनी जिम्मेदारी स्वयं निभाना चाहिए।
    2. काम के स्थान पर साफ़ -सफाई रखे। counting aur hindi 5s picture
    3. problems को पहचाने और उसे सही समय पर उसपर काम शुरू करे।
    • 4s- STANDARDIZE सही मानकीकरण  -
    प्रथम 3 s का प्रतिपालन  सुनिश्चित करना एवं उपयुक्त नियमो का पालन करना। पहले 3 s का standard बनाना हर department से एक व्यक्ति को इसकी जिम्मेदारी सौपना और समय समय पर उसे check करना की पहले 3 s का प्रतिपालन हो रहा है या नहीं।

    अच्छी Houseekiping की आदत बनाय  रखे अगर हमें अच्छे मापदण्ड कायम करने है। और इसके लिये प्रयत्न आवश्यक है, यदि हम अच्छी देख भाल नहीं करते है तो हमारा कार्यस्थल अविकसित हो सकता है।

    हम अपने कार्यस्थल पर हर रोज 8 से 10 घंटे बिताते है क्या हम अपने आपको सुरक्षित और खुश पाते है।काम की देखभाल और सफाई आवश्यक होती है और इस तरह हम अपने कार्य स्थल में सुधार ला सकते है और अपने future को आसान बनाते है। yaha par pdf,ppt,training,housekeeping and fullform of 5s.
    1. इन प्रक्रियाओ को लगातार करना है। 
    2. काम में अधिक से अधिक लोगो को involve होना चाहिए। 
    3. हर काम जो हम करते है उसकी एक check sheet बनानी चाहिए। 
    • 5s- SUSTAIN स्व-अनुशासन -


    प्रत्येक कार्य करते समय,अनुशासन सहित निर्धारित नियमो का पालन करना चाहिए।  Example के लिये प्रत्येक कार्य को निर्धरित समय एवं कार्य प्रणाली के अनुसार कार्य करना, सुरक्षा नियमो का पालन करना,सुरक्षा उपकरणों का प्रयोग करना इत्यादि। 

    हमें अपने वा management के नियमो का पालन करना चाहिए। अच्छी housekeeping के लिये ये आवश्यक है की हम प्रयास करे और उसकी कीमत को समझे और ये अपने आप पर निर्भर करता है।  ये जिम्मेदारी अधिक कार्य करने में ज्यादा महत्व रखती है।  हम जो काम करते है वो काफी नहीं होता हमें चाहिए की हम दूसरे व्यक्तियों का साथ दे और साथ मिलकर काम करे। 

    1. आत्म अनुशासन बनाय रखे। "counting in hindi picture"
    2. Teamwork और अनुशासन के माध्यम से लक्ष्यो को पूरा करे। 
    3. सभी कर्मचारियों को प्रशिछण दे। 
    4. 1s-2s-3s-4s लगातार दोहराये।
      
    5s कैसे करे -
    1. जिस चीज की हमें जरुरत नहीं है उसे वहा से हटा दे।
    2. सभी चीजों को जगह पर रखना चाहिए और उनके लिए जगह निर्धारित होना चाहिए । चीजों को जगह के अनुसार रखे उन्हें फैलाये नहीं। counting in hindi picture
    3. अपने कार्यस्थान की सफाई करते रहे और दुसरो को गंदा करने से मना करे उन्हें 5s के बारे में बताये।
    4. हमें लगातार इन नियमो का पालन करना चाहिए।

    5s- के लाभ -
    1. कार्य सरल होता है, जिससे employee के कार्य के प्रति रूचि बढती है। pdf and ppt.
    2. प्रत्येक कार्य सुविधापूर्वक एवं सुरक्षित ढंग से होता है, जिससे दुर्घटना की संभावना नहीं रहती।
    3. मिलजुल कर कार्य करने से आपसी भाईचारे में ब्रद्धि होती है। fullform,training,dearhindi.com
    4. कार्य-जीवन में सुधार से employee के मनोवल में ब्रद्धि होती है। posters fullform of 5s download.
    5. उत्पादन की गुणवत्ता में ब्रद्धि होती है।
    6. प्रत्येक के विकास एवं संस्थान की निरंतर प्रगति के लिये 5s अत्यंक आवश्यक अंग है।

    इन्हे भी पढ़े -

    3 comments: