The secret of money पैसो के रहस्य के बारे में आपको जरुर जानना चाहिए

The secret of money पैसो के रहस्य के बारे में आपको  जरुर जानना चाहिए - kyo ki hota ye hai money
secret of money hindi,paisa ka seekret in hindi,money,indi,currency,dearhindi,

पैसो के रहस्य के बारे में आपको  जरुर जानना चाहिए - 

पैसो को लेकर हमारी country में बहोत problems हो रही है ये बात सब को पता है. लेकिन सबको ये नहीं पता की पैसो से related problem आज दुनिया की हर बड़ी country में अलग अलग तरीके से होती जा रही है, और आगे और होगी। हम सबको पता है की चीजो के दाम पिछले कई सालो से लगातार बड़ते ही जा रहे है. लेकिन हम सब को ये नहीं पता की ऐसा actually हो क्यों रहा है. या इससे बचने के लिए हमें क्या करना चाहिए क्योकि महगाई का बढ़ते रहना रुकने वाला भी नही है. और आने वाले time में महगाई इतनी ज्यादा बढ़ने वाली है कि normal लोग अपनी normal salary से ठीक ठाक खाना भी नहीं खरीद पाएंगे. हम सब जानते है की अमीर और अमीर होता जा रहा है और गरीब गरीब होता जा रहा है लेकिन हमें ये नहीं पता की ये exactly हो कैसे रहा है. और पता है सबसे बुरी बात क्या है कि ये सारे सवालो के जवाब जानने की कोशिश भी नही करते है. और यही एक main reason है जो चीजे सुधारने के लिये कुछ भी नहीं कर पा रहा है।  

इंसान का (true wealth)सच्चा धन time और उसका freedom होता है जो आज उससे चुराया जा रहा है. अगर आप ऐसा सोच रहे है की ऐसा कैसे possible है तो ये समझने के लिए सबसे पहले आपको पैसो की history पता होना चाहिए। 

पिछले ज़माने में लेनदेन की बात - लोगो को पता ही होगा की पहले ज़माने में इंसान लेनदेन के लिए एक system का use करते थे। जहा एक सामान खरीदने के लिए हमको कोई दूसरा सामान देना पड़ता था. जैसे की मान लीजिये मेरे पास अगर चावल है तो मैं आप को चावल दूगा और आप चावल के बदले मुझे कोई और सामान दोगो. ये system ठीक था। लेकिन इसमें बहोत problem हो जाती थी. फिर लोगो ने कुछ अलग सोचना start किया, उस time पे भी सबको पता था की सोना (gold) एक कीमती चीज होती है. इसीलिए फिर लोगो ने सोने और चांदी के सिक्के बनाकर business करना start कर दिया। क्यों की ज्यादा सोना अपने पास रखना और उसे लेकर घूमना एक फिकर करने वाली बात हो जाती थी। उसके बजन और चोरी के डर से सुनार और कुछ लोगो ने मिलकर इसका solution निकाला, उन्होंने लोगो से कहा हम उसे security करके अपने पास save रखेगे और उसके बदले आप हमें एक छोटी सी रकम दे देना। सबको ये idea काफी अच्छा लगा फिर लोगो ने अपना सोनाचाँदी जमा करना start कर दिया। जिसके बदले सुनार कागज की रसीद बनाकर देता था जिसमे लिखा होता था आपका कितना सोना जमा है. जिसे दिखाकर लोग अपना सोना कभी भी वापस ले जा सकते थे. इसीतरह ये system अच्छे से चलने लगा लेकिन फिर कुछ time के बाद ये बात सामने आई की कोई भी आदमी अपना सोना जमा करने के बाद वापस लेने के लिए नहीं आते थे. और सभी ने उस रसीद से अपना business start कर दिया था। क्योकि सबको यकीन हो गया था की रसीद है मतलब सोना तो होगा ही. 

अब ये चीज़ समझने के बाद सोनार लोगो को लालच आ गई, और फिर उन लोगो ने गलत काम करना start कर दिया।  क्योकि अब उनके हाथ से बानी हुई रसीद ही पैसा बन गया था इसीलिए उन लोगो ने नकली रसीदे और ज्यादा बनाना start कर दिया। उनके पास तो सोना होता भी नहीं था लेकिन वे फिरभी ज्यादा रसीदे बनाते जा रहे थे. जिसे वे दूसरे गरीब लोगो को रसीदे उधार देकर उससे ब्याज कमाने लगते, इसीतरह उन्होंने अपने मन के हिसाब से बहुत सारी रसीदे छापी और दुसरो की मेहनत time छीन कर खूब पैसा कमाए। ऐसे start हुई दुनिया की सबसे बड़ी चोरी। 

सोना संभालकर रखने वाली सुनार की दुकान दुनिया की सबसे पहली बैंक थी, और वो रसीद दुनिया की पहली currency. आज हम सब आर्थिक रूप से इतने बड़े संकट में जी रहे है उसका सबसे बड़ा कारण ये है की हमें money और currency के बीच का different नहीं पता है। बहुत से लोगो को लगता है की money और currency दोनों एक ही है लेकिन ऐसा  नही है। 
The secret of money पैसो के रहस्य के बारे में आपको  जरुर जानना चाहिए - kyo ki hota ye hai money

currency और money क्या है -


currency वो है जिसे आप कही भी लेके घूम सकते हो,जो जल्दी ख़राब नही होती जिसके change कराये जा सकते है। money में भी ये सारी properties होती है लेकिन जो main  different currency को money से अलग करता है वो ये है की money  actual में एक value store रखता है जो अपने अंदर सालो साल तक उसमे होती है जिससे उसकी purchasing power भी बानी रहती है. example  सालो पहले जो fiat currency(रसीद मुद्रा) दुनिया में चलती थी आज उसकी कुछ value नहीं होगी। लेकिन सोना और चांदी जो real money है उसकी value आज भी है और 100साल पहले भी थी और 1000 साल पहले भी थी। जबकि fiat currency बस एक कागज के टुकड़े होते है. जिसे government और बैंक मिलकर जितना चाहे उतना छपती रहती है। जिसकी वजह से उसकी value आज तो है लेकिन कुछ time बाद नहीं होगी जैसा की हजारो सालो से चलता आ रहा है। आप देख ही चुके है 2016 में 500 और 1000 के नोट को बंद कर दिया गया है। लेकिन सोना और चांदी 5000 सालो से अपनी value बनाये रखी है और ये दोनों ही actual money है। क्योकि इन्हें कोई भी चाहे तो मशीन से छाप नही सकता है और बंद भी नहीं कर सकता ।  


क्योकि government और बैंक मिलकर जितनी चाहे उतनी currency छाप सकती है. इसीलिए ज्यादातर होता भी यही है की लालच और अलग अलग reason की वजह से government बहुत सारी currency छपवाकर market में लगातार लाती ही रहती है. जिससे उस currency की quantity बहुत ज्यादा बढ़ती जाती है. अभी अगर आपको लग रहा है की क्या फर्क पड़ता है ज्यादा currency होना अच्छा ही है ज्यादा नोट मतलब ज्यादा पैसे, तो आप गलत सोच रहे है। क्योकि महगाई बढ़ते रहने का main reason यही है. जितनी ज्यादा currency बढ़ेगी country में उतनी ज्यादा चीजे महँगी होती जाएगी। fiat currency (नोटों की मुद्रा) का ये game बैंक के confidant और हमारे ज्ञान की कमी की वजह से चल रहा है। क्योकि बैंक आपसे ये छुपाती नहीं है बल्कि वे तो खुल्ला बताती है की ये currency fiat है, मतलब इसके पीछे कोई सोना या चांदी नहीं रखा हुआ है पर फिर भी हम इस बात को समझ नहीं पाते है. और उन रसीद को ज्यादा value देने लगते है। जब की उसकी खुद की value धीरे धीरे ख़तम होती जा रही है और होती ही रहेगी महगाई की वजह से। 
The secret of money पैसो के रहस्य के बारे में आपको  जरुर जानना चाहिए 
हमें थोड़ा investment सोना और चांदी में रखना चाहिए क्योकि वही हमारी real money है जो अपनी purchasing power लंबे समय तक बनाय रखती है जिसे government रातो रात छाप या बंद नहीं कर सकती है।